Top 10 space agency in world (टॉप 10 स्पेस एजेंसी)

Dosto, duniya ki Top 10 space agency kaun si hain? Inme se kitno ke baare me aap jante hain? ISRO ka inme kaun sa place hain?

Top 10 space agency Hindi

दुनिया में लगभग हर देश स्पेस की गहराइयों को जानना चाहता है समझना चाहता है, लेकिन कौन से देश ऐसा कर पाने में कामयाब हुए हैं या हो सकते हैं? किन देशों के पास है ऐसा स्पेस रिसर्च सेंटर जिसने मंगल पर जीवन ढूंढ लिया तो हैरानी नहीं होगी? और दुनिया के स्पेस रिसर्च सेंटर की रैंकिंग मे इसरो का क्या नंबर है? अगर आपके मन में भी ये सवाल कभी आए हैं, तो आप बिल्कुल सही जगह पर हैं. इस आर्टिकल में हम ढूंढने की कोशिश करेंगे ऐसे ही सवालों के जवाब और भी जानेंगे कि दुनिया के Top 10 space agency कौन से हैं. 

10) International Space Science Institute -Switzerland (इंटरनेशनल स्पेस साइंस इंस्टीट्यूट – स्विट्जरलैंड) 

स्विट्ज़रलैंड में बना ये इंस्टीटयूट एक नॉन प्रॉफिट ऑर्गेनाइजेशन है, जिसे ईएसए सपोर्ट करता है. ईएसए का मतलब है यूरोपियन स्पेस एजेंसी. इस एजेंसी के बारे में आप आगे आर्टिकल में जानेंगे. इस इंस्टीट्यूट को साल 1995 में स्थापित किया गया था. तब से आजतक यह सफलता पूर्वक चल रहा है और लगातार टॉप 10 एजेंसी में बना रहता है. इस इंस्टीट्यूट का मेन पर्पस प्लेनेटरी साइंस, कोसमोलॉजी, सोलर सिस्टम रिसर्च, और अर्थ साइंस है. स्पेस में जाने के लिए और स्पेस को समझने के लिए इस एजेंसी ने नई नई टेक्निक को भी समय समय पर इनवेंट किया है. 

9) International Space University – France (इंटरनेशनल स्पेस यूनिवर्सिटी – फ्रांस) 

ये एजेंसी एक नॉन प्रॉफिट यूनिवर्सिटी है. इसे साल 1987 में. स्थापित किया गया था. आईएसयू में दुनिया की best एरोस्पेस ट्रेनिंग दी जाती है. यहां पढ़ाने वाले टीचर्स स्पेस एजेंसी लीडर्स, एस्ट्रोनॉट और स्पेस इंजीनियर हैं. हालांकि ये एक स्पेस एजेंसी नहीं है लेकिन फिर भी यह इस लिस्ट में है क्यूंकि कई सारी स्पेस एजेंसी में यहां के स्टूडेंट गए हैं जहां उन्होने बहुत उम्दा काम किया है. फ्रेंच गवर्नमेंट की स्पेस एजेंसी सिएनीएस भी एक टॉप रिसर्च एजेंसी है. हालांकि वह इस लिस्ट में जगह नहीं बना पाई, लेकिन आने वाले सालों में उससे उम्मीद बहुत ज्यादा की जा रही है.

A Milky way

8) Space Studies institute (स्पेस स्टडीज इंस्टीट्यूट) 

स्पेस स्टडीज इंस्टीट्यूट कैलिफोर्निया का एक नॉन प्रॉफिट स्पेस इंस्टीट्यूट है. इस इंस्टीट्यूट का मेन पर्पस है स्पेस में मौजूद हर तरह की एनर्जी को ह्यूमनस के लिए अवेलेबल बनाना. 1977 में जब इस स्पेस एजेंसी को स्थापित किया गया तब से ये इस तरफ काफी ज्यादा काम कर चुकी है. इस इंस्टीटयूट ने ट्रांसपोर्ट से जुड़े मैकेनिज्म में काफी बड़ा योगदान दिया है. इनके मेन पर्पस में प्रोपल्शन सिस्टम, लो कॉस्ट स्पेस एक्सेस शामिल है. ये स्पेस में जाने पर लगने वाली कॉस्ट को कम करना चाहते हैं ताकि स्पेस में रिसर्च पर और ज्यादा कड़ी मेहनत की जा सके. 

7) SpaceX (स्पेसएक्स) 

स्पेस एक्स दुनिया की पहली प्राइवेट स्पेस रिसर्च का कम्पनी है. इसकी स्थापना एलोन मस्क ने की थी. 2002 में स्थापित होने के बावजूद कम्पनी को सफलता अब जाकर मिलना शुरू हुई है. जहां बाकी सारी स्पेस एजेंसी सैटेलाइट के पीछे भागती हैं, वहीं स्पेस एक्स के सेकंडरी गोल्स में भी सैटेलाइट नहीं है. स्पेस एक्स का मेन पर्पस है, स्पेस में जाने के लिए लगने वाली कॉस्ट को कम करना. स्पेस एक्स के फाउंडर एलोन मस्क लगातार अपने मार्स मिशन पर कड़ी मेहनत कर रहे हैं. उनकी कम्पनी का गोल है कि 2024 तक या उससे पहले वे किसी इंसान को मार्स पर भेज पाएं. 

6) CNSA – China (सिएनएसए – चाइना) 

सिएनएसए स्टैंड करता है चाइना नेशनल स्पेस एडमिनिस्ट्रेशन के लिए. ये स्पेस एजेंसी चाइना के लिए स्पेस प्रोग्राम डेवलप करती है. इस स्पेस एजेंसी को 1983 में एसटैबलिश किया गया था. जिक्वेन सेटेलाइट लांच सेंटर इनका प्राइमरी स्पेसपोर्ट है. दोस्तों ये एजेंसी साल भर में अपने एक्सपेरिमेंट पर 1.3 बिलियन यूएस डॉलर खर्च करती है. आज तक 8 चाइनीज लोग इस एजेंसी से अलग अलग स्पेस प्रोग्राम के लिए स्पेस में जा चुके हैं. एफवाई 2011 और एफवाई 2013 इस एजेंसी के मेजर प्रोजेक्ट हैं. 

5) ISRO – INDIA (इसरो इंडिया) 

दुनिया की Top 10 space agency मे इसरो का प्लेस पांचवां है. ISRO भारतीय स्पेस रिसर्च एजेंसी है. इसरो स्टैंड करता है इंडियन स्पेस रिसर्च ऑर्गेनाइजेशन के लिए. इसरो का एनुअल बजट 860 मिलियन यूएस डॉलर है. 1969 में इसरो की स्थापना की गई थी. इसरो का मोटो है स्पेस टेक्नोलॉजी इन द सर्विस ऑफ ह्यूमन काइंड यानी कि वे इंसानो के विकास के लिए स्पेस में कड़ी मेहनत करेंगे. इसरो ने 2014 में केवल 75 मिलियन यूएस डॉलर में मंगल की कक्षा में स्पेसक्राफ्ट भेज कर सारी दुनिया को हैरान कर दिया था. दोस्तों आपको यह जानकर हैरानी होगी कि इसरो का ये मिशन दुनिया के सबसे सस्ते स्पेस मिशन में से एक था, लेकिन यह पूरी तरह सक्सेसफुल था. इसरो ने और भी बहुत से मिशन को अंजाम दिया है. चंद्रयान 1 और चंद्रयान 2 इसमें शामिल हैं. चंद्रयान 2 के बाद दुनिया में इसरो की रैंकिंग बढ़ने के बहुत ज्यादा चांस हैं. 

4) JAXA – JAPAN (जाक्सा – जापान) 

जाक्सा स्टैंड करता है जापान एरोस्पेस एक्सप्लॉरेशन एजेंसी के लिए. ये जापान गवर्नमेंट की नेशनल स्पेस एजेंसी है. इसको साल 2003 में स्थापित किया गया था और इसका हेडक्वार्टर टोक्यो में है. सेंट्रल लाइन की सारी स्पेस एजेंसी से कई सालों बाद स्थापित होने के बावजूद इस एजेंसी ने टॉप 4 अपनी जगह बनाई जो कि दिखाता है कि पिछले सालों में इन्होने कितनी मेहनत की है. जाक्सा का एनुअल बजट 2.6 बिलियन यूएसडॉलर है. इस एजेंसी का मेन मोटो स्पेस में जीवन की तलाश करना है. 

3) European Space Agency (यूरोपियन स्पेस एजेंसी) 

ये स्पेस एजेंसी एक इंटर गवर्नेमेंट एजेंसी है. इसे 1975 में यूरोप के 20 देशों ने मिलकर स्थापित किया था. इस स्पेस एजेंसी में रिकॉर्ड 2,000 से ज्यादा लोग काम करते हैं और इसका एनुअल बजट 5 बिलियन यूएस डॉलर से भी ज्यादा है. इस एजेंसी का मेजर पर्पस मून एक्सप्लोरेशन और दूसरे प्लेनेट पर जीवन ढूंढना है. 

2) RFSA – RUSSIA (आरएफएसए – रशिया) 

आरएफएसए स्टैंड करता है रशियन फेडरल स्पेस एजेंसी के लिए शॉर्ट में इसे रॉसकॉसमॉस भी कहा जाता है. जैसा कि नाम से ही पता चल रहा है ये एक रशियन स्पेस ऑर्गेनाइजेशन है. इसका एनुअल बजट 5.6 बिलियन यूएस डॉलर का है. इस एजेंसी के कुछ सक्सेसफुल मिशन में रिटर्न टू मून, रिटर्न टू वीनस शामिल हैं. ग्लोनस भी इन्ही का एक मिशन था जिसमें एक साथ इन्होने 24 सैटेलाइट लांच किए थे. हाल फिलहाल में ये एजेंसी फोबोस और लुना पर काम कर रही है. जहां फोबोस एक मार्स मिशन है, वहीं लुना एक मून मिशन है. 

1). NASA – AMERICA (नासा – अमेरिका) 

स्पेस रिसर्च वर्ल्ड में नासा से बेहतर अब तक कोई और स्पेस एजेंसी नहीं बन पाई. एक फैक्ट के अनुसार जब अलग अलग देशों में लोगों के बीच सर्वे किया गया तब यह पाया गया कि नासा ही एक फॉरेन स्पेस एजेंसी है जिसके बारे में लोगों को पता है. नासा को 1958 में स्थापित किया गया था. नासा के आज तक के सबसे ज्यादा फेमस रहे स्पेस रिसर्च प्रोग्राम में स्काईलैब, स्पेस शटल और अपोलो मिशन शामिल है. नासा इस समय सोलर सिस्टम की बॉडी को एक्सप्लोर कर रहा रहा है. नासा ने पिछले कुछ सालों में काफी सफलतापूर्वक कदम बढ़ाए हैं. स्पेस के साथ नासा अर्थ के लिए काफी काम कर रहा है. अर्थ ऑब्जर्विंग सिस्टम रिसर्च इसमें मेजर हैं.

NASA is first among Top 10 space agency of world.

तो दोस्तों ये थे हमारे टॉप 10 स्पेस रिसर्च एजेंसी. 

अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया हो तो लाइक बटन पर क्लिक जरूर करें. 

आपको क्या लगता है? इनमें से कौन सी एजेंसी सबसे पहले मार्स पर लाइफ ढूंढेगी, हमें कमेन्ट करके जरूर बताएं. 

अगर आप ऐसी ही पोस्ट्स पढ़ना पसंद करते हैं तो हमारे ब्लॉग www.inklab.in को फॉलो जरूर करें.